ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले हो जाए सावधान

चड़ीगढ़ शहर में आज से दिन के साथ-साथ रात को भी चालान काटे जाएगें। अब रात के समय भी वाहन को बिना हेलमेट या ज्यादा स्पीड में चलाया तो वह ट्रैफिक पुलिस की नजरों से नही बच पाएगा। आपको बता दें कि चण्डीगढ़ ट्रैफिक पुलिस ने तीन ‘नाइट विजन के स्पीड गन डिवाइस खरीदे हैं, जोकि अंधेरे में भी 300 मीटर की दूरी तक काम करेगा। अगर कोई व्यक्ति रात में बिना हेलमेट या तेज रफ्तार से वाहन चलाता पाया गया तो यह स्पीड गन वाहन चालक को 300 मीटर की दूरी पर कैच कर लेगी।

बता दें कि पिछले काफी समय से ट्रैफिक पुलिस द्वारा इन नाइट विजन स्पीड गन को खरीदने की मांग की जा रही थी। लेकिन ट्रैफिक पुलिस के उच्चाधिकारियों अनुसार यह प्रपोजल बार-बार बीच में लटक रहा था, लेकिन अब दिल्ली की एक कंपनी से करीब 19 लाख रुपये में तीन स्पीड गन खरीद ली गई।

हाई टेक्नोलॉजी से लैस नाइट विजन स्पीड गन को सही तरीके से इस्तेमाल करने के लिए करीब 200 ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को ट्रेंड कर किया जा रहा है। अधिकारियों के अनुसार, अगर यह डिवाइस कारगर रहा तो इसे और ज्यादा संख्या में खरीदा जाएगा। दक्षिण मार्ग, मध्यमार्ग, उद्योग पथ समेत शहर की अन्य मुख्य सड़कों पर स्पीड गन का नाका लगाकर वाहनों के रफ्तार रोकने के अलावा बिना हेलमेट दोपहिया वाहन चालकों पर कार्रवाई करेगी।

ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि उनके पास ओवर स्पीड की चेकिंग के लिए पहले से जो डिवाइस हैं, वह रात के अंधेरे में कारगर नहीं होने के कारण तीन नए डिवाइस खरीदे गए हैं। ये डिवाइस अब अंधेरे में 300 मीटर की दूरी से वाहनों की तेजरफ्तार चेक करने की क्षमता रखने के अलावा बिना हेलमेट पहने व्हीकल चला रहे चालकों को पता लगा लेंगे।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.