5 साल से छोटे बच्चों का आसानी से बन जाएगा Aadhar

मौजूदा समय में आधार कार्ड (Aadhar Card) एक जरूरी डॉक्यूमेंट हो गया है। ज्यादातर सरकारी योजनाओं में इसके बिना काम नहीं होता। यहां तक की बच्चों के एडमिशन की बात आए तो वहां भी आधार कार्ड जरूरी हो गया है। अगर आपको भी अपने बच्चे का आधार कार्ड बनवाना है तो इसके लिए कुछ डॉक्यूमेंट की जरूरत होगी। हम इस खबर में आपको बता रहे हैं कि आप कैसे अपने बच्चे का आधार बनवा सकते हैं।

5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए

बच्चे की उम्र पांच साल से कम है तो आधार (Aadhaar) कार्ड रजिस्ट्रेशन सेंटर में जाकर उसके नाम का फॉर्म भरें। इसके बाद आपके बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र और आपके आधार की कॉपी की दरकरार होगी। हालांकि, आधार सेंटर में आपको अपना असली आधार ले जाना होगा। पांच साल से कम उम्र के बच्चों का बायोमैट्रिक न करके बच्चे के आधार कार्ड को उनके माता-पिता के आधार कार्ड से जोड़ा जाता है। बच्चे की उम्र 5 साल हो जाने पर उसके दसों उंगलियों के फिंगरप्रिंट, रेटिना स्कैन और फोटोग्राफ आधार केंद्र में जाकर देना होगा।

5 से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए क्या करना होगा

  • आधार (Aadhaar) के लिए पास के आधार नामांकन केंद्र पर जाएं।
  • आधार नामांकन फॉर्म भरें।
  • अगर आपके पास अपने बच्चे का वैध पता प्रमाण नहीं है तो अपने आधार नंबर की डिटेल दें।
  • संबंधित दस्तावेजों के साथ फॉर्म जमा करें।
  • अब आपके बच्चे के बायोमेट्रिक्स (10 उंगलियों के निशान, आईरिस स्कैन और फोटोग्राफ) की जरूरत होगी।
  • एक बार प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद एक रिसीव पर्ची तैयार की जाती है।
  • पर्ची में नामांकन आईडी होती है जिसमें नामांकन संख्या और नामांकन का समय और तारीख दर्ज होता है।
  • आधार की स्थिति की जांच के लिए नामांकन आईडी का उपयोग किया जा सकता है।
  • नामांकन के 90 दिनों के भीतर आधार कार्ड आवेदक के पते पर भेज दिया जाता है।
  • जब बच्चा 15 वर्ष का हो जाता है, तो उसे यूआईडीएआई के डेटाबेस में अपना बायोमेट्रिक डेटा अपडेट करवाना होता है।
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.