रोहित की गैरमौजूदगी में मयंक के साथ टेस्ट में पारी की शुरुआत

न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मयंक अग्रवाल के साथ टीम इंडिया के लिए ओपनिंग की जिम्मेदारी कौन निभाएगा ये सबके लिए बड़ा सवाल है। रोहित शर्मा चोटिल होने की वजह से टेस्ट सीरीज से भी बाहर हैं, ऐसे में टेस्ट में मयंक के ओपनिंग पार्टनर कौन होंगे इस पर सबकी निगाहें टिकी हुई है। टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने साफ कर दिया है कि मयंक के साथ पृथ्वी शॉ या फिर शुभमन गिल दोनों में से कोई एक ये जिम्मेदारी निभाएगें।

आपको बता दें कि रोहित शर्मा न्यूजीलैंड के खिलाफ इंजरी की वजह से वनडे सीरीज और टेस्ट सीरीज दोनों से ही बाहर हो गए थे और ये उम्मीद की जा रही है कि अब वो आइपीएल में ही वापसी कर पाएंगे। रोहित की गैरमौजूदगी में भी शास्त्री ने भरोसा जताया है कि टीम इंडिया पूरी तरह से मजबूत और स्थाई दल है और वो टेस्ट सीरीज में मेजबान टीम को पूरी टक्कर देगी।

रवि शास्त्री ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा कि शुभमन गिल और पृथ्वी शॉ दोनों ही सेम स्कूल से हैं और दोनों नई गेंद को फेस करना और नई चुनौती को पसंद करते हैं। रोहित शर्मा दुर्भाग्यवश टेस्ट सीरीज से भी बाहर हैं ऐसे में शुभमन गिल या फिर पृथ्वी शॉ दोनों में से कोई एक मयंक के साथ ओपनिंग बल्लेबाजी करेंगे। उन्होंने कहा कि दोनों बल्लेबाजों में कमाल का टैलेंट है हालांकि ये अलग बात है कि किसे वेलिंग्टन में होने वाले पहले टेस्ट मैच के लिए अंतिम ग्यारह में शामिल होने का मौका मिलेगा। ये दोनों ही भारतीय टीम का हिस्सा हैं और उन्हें पता है कि क्या करना है।

पृथ्वी शॉ और शुभमन गिल दोनों ही अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड इलेवन के खिलाफ अपना खाता भी नहीं खेल पाए थे। शुभमन गिल गोल्डन डक का शिकार बने। शुभमन को स्कॉट कुगेलेजिन ने आउट किया था। रवि शास्त्री टीम की गेंदबाजी को लेकर थोड़ी चिंता में नजर आए क्योंकि भुवनेश्वर कुमार स्पोर्ट्स हर्निया के ऑपरेशन की वजह से टीम से बाहर चल रहे हैं तो वहीं रणजी मैच के दौरान चोटिल हुए इशांत शर्मा अपनी फिटनेस हासिल करने में लगे हैं।

गेंदबाजी को लेकर रवि शास्त्री ने कहा कि हमारे चार से पांच मुख्य गेंदबाज बाहर हैं। भुवनेश्वर यहां कि परिस्थिति में काफी इफेक्टिव साबित हो सकते थे, लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि हमारे पास ऑप्शन है। जसप्रीत बुमराह वनडे सीरीज में एक भी विकेट नहीं ले पाए थे। टेस्ट सीरीज में उमेश यादव और मो. शमी पर गेंदबाजी की जिम्मेदारी का ज्यादा बोझ होगा।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.