पक्के नाले के निर्माण पर उठे सवाल

फरीदाबाद : स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत निजी कंपनी की ओर से बनाए जा रहे पक्के नाले के निर्माण को लेकर नगर निगम ने आपत्ति जताई है। नगर निगम के अधिकारी का कहना है कि नाले का निर्माण नियम के अनुरूप नहीं किया जा रहा है, इससे भविष्य में दिक्कत हो सकती है। नगर निगम के मुख्य अभियंता ने स्मार्ट सिटी कंपनी के अधिकारियों और कार्यकारी अभियंता को पत्र लिखा है।

बता दें कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत पानी निकासी को लेकर पांच नंबर रेलवे रोड, सेक्टर-21ए, नीलम बाटा रोड सहित कई जगह नाले का निर्माण कराया जा रहा है। नाला सड़क से सटाकर बनाया जा रहा है। नाले को कवर करने के बाद भविष्य में सड़क की चौड़ाई को बढ़ाने में दिक्कत हो सकती है। नाले को फिर से तोड़ना होगा। इसलिए नाले का निर्माण सड़क से थोड़ा हटकर करना चाहिए। कंपनी नाले का निर्माण सड़क के साथ कर रही है। जबकि नाले का थोड़ा हटाकर बनाना चाहिए। भविष्य में सड़क की चौड़ाई बढ़ानी हो, तो दिक्कत आएगी।

-डीआर भास्कर, मुख्य अभियंता, नगर निगम। मैंने पक्के नाले के निर्माण में खामियों को लेकर अधिकारियों को अवगत कराया था। कुछ सुधार हुआ है। स्मार्ट सिटी के तहत जहां पक्का नाला बनाया जा रहा है। उसके पास ही नई सीवर लाइन डालने को कहा है। मेरे वार्ड में कई जगह 50 वर्ष से पुरानी सीवर लाइनें हैं। भगत सिंह कालोनी, नेशन हट, फ्रूट गार्डन और आसपास नई सीवर लाइन डल जाएंगी, तो सीवर जाम की समस्या से राहत मिल जाएगी।

-जसवंत सिंह, वार्ड-14 के पार्षद।

Leave A Reply

Your email address will not be published.