फिर पत्रकार पर तान दी बंदूक देखिये

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

यमुनानगर : यमुनानगर में लगातार बढ़ रहा है क्राइम ग्राफ अब चिंता का विषय बनता जा रहा है। ताजा मामले में एक निजी न्यूज़ चैनल के संवादाता के साथ गन पॉइंट पर लूट की वारदात सामने आई है। लूट का शिकार पत्रकार मेडिकल शॉप से दवाई लेकर अपने घर लौट रहा था। जिसे एक बिना नंबर प्लेट की बाइक पर सवार तीन नकाबपोश लुटेरों ने घेर लिया। इससे पहले कि वह कुछ समझ पाता बदमाशों ने लोहे की रोड से उस पर हमला कर दिया। खुशकिस्मती से रिपोर्टर इस वार से तो बच गया मगर अगले ही पल तीनों में से एक बदमाश ने उस पर पिस्टल तान दी। जिसके आगे विरोध करने का मतलब सीधा सीधा मौत होता। इस वारदात में लुटेरे पत्रकार का मोबाइल फोन और पर्स छीन कर उसे जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फरार हो गए। लूट की यह सारी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई, जिसके आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी हैं। गौरतलब है कि इस तरह की यह कोई पहली वारदात नहीं है, इस इलाके में पिछले कई दिनों से लगातार हो रही यह वारदातें अब आम हो चुकी है। जिससे क्षेत्रवासी दहशत के माहौल में हैं।

जब पेशे से एक निजी न्यूज़ चैनल में संवाददाता आशीष शर्मा अपने घर से 2 मिनट की दूरी पर स्थित एक मेडिकल शॉप से दवाइयां लेकर अपने घर लौट रहे थे। इससे पहले कि वह कुछ समझ पाते सामने से एक बिना नंबर वाली मोटरसाइकिल आती है। जिस पर तीन नकाबपोश बदमाश बैठे हुए दिखाई देते हैं। तीनों बदमाश सामने से अकेले आ रहे आशीष शर्मा को देख अपनी मोटरसाइकिल का यू टर्न लेकर वापिस आ जाते हैं, और चौराहे पर खड़े हो जाते हैं। जैसे ही आशीष शर्मा उनके पास पहुंचते हैं, तीनों उनको घेर लेते हैं। इससे पहले कि पीड़ित पत्रकार इसका विरोध करता तीनों में से एक बदमाश देसी पिस्तौल निकालकर उसके सीने पर तान देता है। और दूसरा बदमाश लोहे की रॉड से उसके सिर पर प्रहार करता है। आशीष शर्मा इस प्रहार से तो जैसे तैसे बच जाते है, मगर बदमाश उसे गोली मारने की धमकी देकर अपने काबू में कर लेते हैं। तीसरा बदमाश आशीष शर्मा की जेब से पर्स निकाल लेता हैं जिसमे 22 हज़ार रुपये थे। और दूसरा बदमाश मोबाइल फोन छीन लेता हैं। इसके बाद तीनों बदमाश आशीष शर्मा को जानसे मारने की धमकी देकर बड़ी आसानी से फरार भी हो जाते हैं। आशीष शर्मा की माने तो जब वह बदमाशों का विरोध कर रहे थे, तो उन्होंने उन्हें गोली मारने के लिए अपनी पिस्तौल लोड कर ली थी। अगर आखरी क्षण में वह पीछे न हटते तो आज शायद वह जिंदा ही न होते।

इस मामले में थाना प्रभारी फर्कपुर मुकेश शर्मा का कहना है कि पुलिस की कई टीमें इस केस को ट्रेस करने के लिए दिन-रात कड़ी मेहनत कर रही है। और सीसीटीवी फुटेज को भी कब्जे में लेकर आरोपियों की तलाश की जा रही है उन्हें उम्मीद है कि बहुत जल्द लुटेरे सलाखों के पीछे होंगे।

गौरतलब है कि पिछले लंबे समय से इस इलाके में छीना झपटी और लूटमार की घटनाएं लगातार बढ़ रही है। जिन्हें रोकने के लिए पुलिस प्रशासन के इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे हैं। आशीष शर्मा के साथ जिस रात यह वारदात हुई उसी रात दो अलग-अलग जगहों पर बदमाशों ने खुलकर दबंगई दिखाई कहीं फायर किए गए तो कहीं एक कार में तोड़फोड़ भी की गई। क्षेत्रवासी दहशत के माहौल में है आलम यह है कि रात को 9 बजे के बाद अब लोग अपने घरों से बाहर निकलने से भी डरने लगे हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
kartea