दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने दिल्ली के गोविंदपुरी थाना इलाके के तुगलकाबाद विस्तार में फ्लैग मार्च किया

नई दिल्ली : नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध और समर्थन को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में छिटपुट हिंसा मंगलवार को भी जारी है। वहीं, दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने दिल्ली के गोविंदपुरी थाना इलाके के तुगलकाबाद विस्तार में फ्लैग मार्च किया। इस दौरान ज्वाइंट सीपी भी मौजूद रहे। लोगों से शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील भी की जा रही है। वहीं, ब्रह्मपुरी रोड पर भी फ्लैग मार्च जारी है, यहां रात में जमकर गोलियां चली थीं। फिलहाल यहां पर शांति है।

इस बीच भड़काऊ बयान पर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा सांसद गौतम गंभीर (BJP MP Gautam Gambhir)  ने गहरी नाराजगी जताई है। उन्होंने पूर्व विधायक कपिल मिश्रा का जिक्र करते हुए कहा कि भड़काऊ बयान देने वालों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए, चाहे वह किसी भी पार्टी का क्यों न हो। उन्होंने यह भी कहा कि चाहे वह कपिल मिश्रा हों या फिर कोई और हो, अगर गलत है तो कार्रवाई होनी चाहिए। वहीं, मंगलवार दोपहर में मौजपुर मेट्रो स्टेशन के पास कबीर नगर इलाके में पथराव की खबर है।

CAA Protests Delhi Updates LIVE:

  • हिंसक प्रदर्शन का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। पूर्व अधिकारी वजाहत हबीबुल्लाह (Former CIC Wajahat Habibullah) ने सुप्रीम में याचिका दायर कर दिलली में हुई हिंसा मामले में FIR दर्ज करने की मांग की है। इस पर बुधवार को सुनवाई हो सकती है। वहीं याचिका में यह भी मांग की गई है कि शाहीन बाग समेत दिल्ली के जिन इलाकों में महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं वहां पर सुरक्षा सुनिश्चित की जाए।
  • दिल्ली हाई कोर्ट में मौजपुर, जाफराबाद समेत उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में हिंसा के मद्देनजर याचिका दायर की गई है।  
  • वहीं, मंगलवार सुबह से जारी हिंसा के बीच मौजपुर चौक पर महिलाओं ने कई दुकानों में तोड़फोड़ की। इसी के साथ भीड़ ने मौजपुर ने ही एक घड़ी, एक एसी  और जूते की दुकान में आग लगा दी। वहीं, प्रदर्शनकारियों ने करावल नगर रोड पर आग लगा दी है और किसी को आगे जान नहीं दे रहे हैं। पुलिस ने जानकारी दी है कि अब तक एक पुलिसकर्मी समेत कुल 7 लोगों की मौत पिछले दो दिन की हिंसा की दौरान हुई है।
  • दिल्ली हिंसा पर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि 2-3 महीने से CAA-NRC को लेकर प्रदर्शन और हिंसा हो रही है। इसके लिए पूरी जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है। सरकारी पक्ष के लोग भड़काऊ बयान देते हैं।  कपिल मिश्रा कहते हैं ट्रंप के जाने के बाद निपट लेंगे। इस तरह से लोकतंत्र में सरकारें काम नहीं करतीं।
  • दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के मुताबिक, उत्तर पूर्वी जिले के मौजपुर और ब्रह्मपुरी इलाके में मंगलवार सुबह भी पथराव किया गया, हालांकि इसमें किसी के घायल होने की खबर नहीं है।
  • भीड़ ने नर्सिंग होम के बाहर लगे बिजली के खंभे को तोड़ दिया, जिससे कल्याण सिनेमा और घोंडा के कुछ इलाकों की बिजली चली गई।
  • गोकुलपुरी इलाके में हुई हिंसा में घायल डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा (Shahdara DCP Amit Sharma) को होश आ गया है। उनकी रात को सर्जरी भी गई। फिलहाल उनकी हालत खतरे से बाहर है।
  • पूर्वी दिल्ली स्थित ब्रह्मपुरी रोड पर सारी दुकानें बंद हैं, साथ ही सार्वजनिक सेवा बिल्कुल बंद है। लोग समूह बनाकर सड़क पर खड़े हैं।
  • CAA-NRC के विरोध और समर्थन के दौरान हिंसा के मद्देनजर रविवार और सोमवार को भड़की हिंसा के मद्देनजर दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने अपने आवास पर आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में विधायकों के साथ अधिकारियों को भी हिंसा के मद्देनजर बातचीत के लिए बुलाया गया है।
  • हिंसा के मद्देनजर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सभी स्कूल मंगलवार को बंद हैं। ऐसे शिक्षा विभाग के आदेश पर किया गया है। साथ ही बोर्ड परीक्षाओं सहित अन्य वार्षिक परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है।
  • दिल्ली पुलिस के मुताबिक, उत्तर पूर्व जिले के कई इलाकों में तनाव बरकरार है। इस बाबत पुलिस की सीलमपुर में बैठक भी हुई है।
  • दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, सोमवार को सरेआम पिस्टल चला रहे शाहरुख नाम के शख्स को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।
  • दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) ने संभावित बवाल के मद्देनजर जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, जोहरी एन्कलेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन को मंगलवार को भी बंद रखा गया है। इन मेट्रो स्टेशन पर लोगों की आवाजाही के लिए गेट बंद हैं और यहां पर मेट्रो ट्रेन भी नहीं रुक रही है।
  • पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, एक पुलिसकर्मी रतनलाल और चार नागरिकों की मौत हिंसक प्रदर्शनों के चलते हुई है। वहीं, 105 लोग इन हिंसक प्रदर्शनों में घायल हुए हैं।
  •  हिंसा का असर मंगलवार को भी देखने को मिल रहा है। मंगलवार सुबह भी जाफराबाद, मौजपुर, करावलनगर समेत उत्तर पूर्व के ज्यादातर इलाकों में तनाव बरकरार है। कुछ जगहों पर हिंसा की भी खबर है। हालांकि, प्रभावित इलाकों में पुलिस बल तैनात है, लेकिन लोग खौफजदा हैं। इससे पहले सोमवार को हिंसा ने और उग्र रूप ले लिया था।
  • यमुनापार (पूर्वी दिल्ली) के कई इलाकों में दिनभर पत्थरबाजी, आगजनी और गोलीबारी होती रही। इसमें एक पुलिसकर्मी सहित पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि 100 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए। इनके अलावा शाहदरा के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) अमित शर्मा सहित 12 पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.