हरियाणा प्रदेश में सफाई कर्मचारियों ने सडक़ों पर उतरकर किया झाडू प्रदर्शन

फरीदाबाद । नगर निगम में सफाई कर्मचारियों ने पंचकुला नगर निगम में 258 सफाई कर्मचारियों को आर्थिक तंगी का बहाना बनाकर हटाए गए, जिससे पूरे प्रदेश के अंदर सभी कर्मचारियों में प्रदेश की सरकार से नाराजगी उत्पन्न हो रही है, इसी को लेकर आज पूरे प्रदेश में सफाई कर्मचारियों ने सडक़ों पर उतरकर झाडू प्रदर्शन किया। इसी कड़ी में फरीदाबाद नगर निगम में भी झाडू प्रदर्शन किया।
इस प्रदर्शन की अध्ययक्षता नगर निगम सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने की तथा मंच का संचालन सचिव सोमपाल झिझोटिया ने किया। प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए नगर पालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के जिला प्रधान गुरचरण खाण्डिया व सचिव नानकचंद खैरालिया तथा सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने कहा कि प्रदेश की सरकार से 24 मई 2018, 30 अगस्त 2019 को हुए समझौतों को ईनामदारी से लागू करना, जिसमें प्रदेश की सरकार ने सभी नगर निगम, पालिका व परिषदों में ठेकाप्रथा में काम कर रहे है कर्मचारियों को पालिका, परिषद व निगमों में रोल पर रखने की सहमति बनी थी। लेकिन आज तक समझौते को ईमानदारी से लागू नहीं किया जा रहा जिससे की नगर निगम में 290 सफाई कर्मचारियों को निगम में रोल पर नहीं किया गया। जिससे की सफाई कर्मचारियों में नगर निगम प्रशासन के प्रति रोष उत्पन्न हो रहा है।
उन्होंने कहा कि नगर निगम के सेवानिवृत कर्मचारी का बकायाजात व निगम में कार्यरत कर्मचारियों का एलटीसी, एसीपी स्केल का एरियर, डीए के एरियर का भुगतान अभी तक नहीं किए जाने के कारण निगम कर्मचारी अब निगम के खिलाफ आन्दोलन की रणनीति बनाकर नगर निगम फरीदाबाद के मुख्यालय पर आन्दोलन करने पर मजबूर होगें। अखिल भारतीय सरकारी राज्य कर्मचारी फेडरेशन के आह्वान पर कल 27 फरवरी को निगम सभागार में विभिन्न मांगों को लेकर मांग दिवस मनाया जाएगा।
झाडू प्रदर्शन में अन्य के अलावा श्रीनंद ढकोलिया, जितेन्द्र छाबड़ा, दान सिंह, राजबीर चिण्ड़ालिया, प्रेमपाल, दर्शन सोया, नानक चौधरी, राकेश चिण्डालिया, देशराज डाबर, विजय चावला, रगबीर चौटाला, विजयपाल, सूरजकीर, नरेश भगवाना, धर्मबीर मुल्ला, जसबीर चौहान, ललित, रविन्द्र टांक, सुनीता, शकुन्तला, ज्ञानो देवी, कमलेश, कविता सहित सैकड़ों निगम सफाई कर्मचारी मौजूद थे।
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.