Header new

आईबी के जवान अंकित शर्मा की हत्या में शामिल होने के आरोपों पर आप पार्षद ताहिर हुसैन ने भी सफाई देते हुए कहा है कि ये सब आरोप गलत हैं

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आम आदमी पार्टी(आप) पार्षद ताहिर हुसैन पर इंटेलिजेंस ब्यूरो(आईबी) के अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या में शामिल होने के आरोपों पर पार्टी की ओर से सफाई दी गई है। आम आदमी पार्टी(आप) नेता संजय सिंह ने इस आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि हमारी पार्टी(आप) पहले दिन से कह रही है कि कोई भी व्यक्ति, चाहे वह किसी भी पार्टी या धर्म का हो, उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

इसके साथ ही संजय सिंह ने कहा कि ताहिर हुसैन पहले ही अपना बयान दे चुके हैं जिसमें उन्होंने कहा कि उन्होंने हिंसा के दौरान भीड़ और उनके घर में घुसने के बारे में पुलिस और मीडिया को सारी जानकारी दी। उन्होंने पुलिस से सुरक्षा मांगी थी। पुलिस 8 घंटे देरी से आई और उसे और उसके परिवार को उसके घर से बचाया।

कपिल मिश्रा का आप पर निशाना

इस बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता कपिल मिश्रा ने गुरुवार को आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी(आप) अपने पार्षद ताहिर हुसैन को बचान की कोशिश कर रही है। गुरुवार को एक ट्वीट करते हुए कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी (आप) नगर पार्षद ताहिर हुसैन को बचाने की कोशिश कर रही है।

कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया, ‘AAP नेताओं के अलावा, यहां तक ​​कि अरविंद केजरीवाल का समर्थन करने वाले पत्रकार भी ताहिर हुसैन को बचाने के मिशन में लगे हुए हैं। वह एक ही छत पर दंगाइयों के साथ दिख रहे हैं।’ उन्होंने आगे आरोप लगाया कि ताहिर हुसैन के घर में इंटेलिजेंस ब्यूरो अधिकारी अंकित शर्मा सहित कम से कम तीन लोगों की हत्या कर दी गई।

इससे पहले भाजपा नेता ने ताहिर हुसैन पर आईबी अधिकारी की हत्या का आरोप लगाया था, जिनका शव बुधवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के चांद बाग इलाके से बरामद किया गया था। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि ताहिर हुसैन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लगातार संपर्क में थे।

ताहिर हुसैन ने आरोपों से किया इनकार

ताहिर हुसैन ने कहा है कि ये सब आरोप गलत हैं, सोमवार को मेरे घर पर बहुत सारे लोग हमले के लिए आ गए थे। इसे देखते हुए पुलिस ने वहां से मुङो हटा दिया था। हमने खुद पुलिस बल की मौजूदगी की मांग की थी। मंगलवार को जब मैं अपने घर कपड़े लेने पहुंचा तो फिर से पुलिस ने मुङो हटा दिया था। मैं सांप्रदायिक सौहार्द का पक्षधर रहा हूं। अमन-चैन के लिए जीवन भर काम किया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
kartea