भारतीय करते हैं मोबाइल डाटा की सबसे अधिक खपत

भारत में इंटरनेट डाटा सस्ता होने की वजह से इंटरनेट यूजर्स की संख्या तो बढ़ ही रही है। साथ ही साथ, इंटरनेट डाटा कंज्यूम करने की दर में भी भारी बढ़त देखी जा रही है। सस्ते मोबाइल डाटा और स्मार्टफोन्स की वजह से 4G यूजर्स की संख्या में बढ़त देखी गई है। जिसकी वजह से भारतीय यूजर्स हर महीने 11GB तक डाटा कंज्यूम कर रह हैं। टेलिकॉम कंपनियों के लिए इक्वीपमेंट और स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Nokia ने इस बात की जानकारी दी है। Nokia ने अपने स्टेटमेंट में कहा कि MBiT (Mobile Broadband India Traffic Index) की रिपोर्ट के मुताबिक, 2019 में भारत में इंटरनेट डाटा खपत की दर में 47 प्रतिशत की बढ़त देखी गई है।

भारत में इस समय कुल डाटा खपत का 96 प्रतिशत डाटा 4G नेटवर्क के जरिए किया जा रहा है। वहीं, 3G डाटा खपत में भारी कमी देखी गई है। 3G डाटा खपत में 30 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है। इसका मुख्य कारण ये भी है कि टेलिकॉम कंपनियां अपने 3G सर्विस को बंद करके 4G में अपग्रेड कर रही हैं। Nokia इंडिया के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर अमित मारवाह मे कहा कि दिसंबर 2019 में एवरेज डाटा यूसेज पर यूजर 11GB तक पहुंच गई है। इसका मुख्य कारण 4G नेटवर्क अपग्रेड में 16 प्रतिशत की बढ़त है। यूजर्स वीडियो स्ट्रीमिंग पर ज्यादा फोकस कर रहे हैं, जिसकी वजह से डाटा कंज्म्पशन बढ़ा है।

इस तरह से भारत में प्रति व्यक्ति डाटा खपत चीन, अमेरिका, फ्रांस, दक्षिण कोरिया, जापान, जर्मनी और स्पेन से भी ज्यादा हो सकता है। 1GB डाटा में यूजर्स 200 से ज्यादा गाने स्ट्रीम कर सकते हैं या फिर 1 घंटे वीडियो स्ट्रीमिंग कर सकते हैं। डाटा कंज्यूम करने में हाई क्वालिटी वीडियो का भी अहम रोल है। ऑनलाइन हाई क्वालिटी वीडियो स्ट्रीमिंग की वजह से यूजर्स काफी ज्यादा डाटा खपत कर रहे हैं।

इस समय भारत में 47 प्रतिशत से ज्यादा ब्रॉडबैंड पेनिट्रेशन है जो चीन के 95 प्रतिशत के मुकाबले लगभग आधा है। वहीं, यूरोपीय देशों में ब्रॉडबैंड पेनिट्रेशन 95 प्रतिशत से भी ज्यादा है। भारत में मोबाइल डाटा का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स की संख्या कई विकसित देशों से ज्यादा है। भारत में डाटा की कीमत दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है। भारत में Rs 7 प्रति GB की दर मे डाटा उपलब्ध है। भारत में वीडियो स्ट्रीमिंग OTT प्लेटफॉर्म्स को भी लोग पसंद कर रहे हैं। जिसकी वजह से भी डाटा खपत में ये बढ़ोत्तरी देखने को मिली है।

रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में 2019 में 4G हैंडसेट की बिक्री 501 मिलियन यूनिट्स तक पहुंच गई है जो कि 2018 में 330 मिलियन थी। 4G हैंडसेट की बिक्री में 1.5 गुना की बढ़त देखी गई है। साथ ही साथ VoLTE इनेबल्ड स्मार्टफोन की संख्या भी बढ़कर 432 मिलियन तक पहुंच गई है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.