Haryana में पुलिस विभाग में आएंगी 630 नई गाड़ियां, 10 से 20 मिनट में पहुंचेगी पुलिस

पुलिस महानिदेशक हरियाणा मनोज यादव ने आज आईआईएम रोहतक में स्थापित की गई आईआईएम पुलिस चौकी के नव-निर्मित भवन का उद्घाटन किया है। इस अवसर पर आईआईएम रोहतक के निदेशक धीरज शर्मा, पुलिस महानिरीक्षक रोहतक रेंज रोहतक संदीप खिरवार, पुलिस अधीक्षक रोहतक राहुल शर्मा, पुलिस अधीक्षक सोनीपत जशनदीप सिंह रंधावा, प्रशिक्षु आईपीएस नितिश अग्रवाल व अन्य अधिकारी मौजूद रहे है। पुलिस महानिदेशक हरियाणा ने रिबन काटकर चौकी की नए भवन का विधिवत रुप से उद्घाटन किया। इस अवसर पर डीजीपी महोदय ने चौकी में तैनात पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।
इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक हरियाणा मनोज यादव ने हरियाणा पुलिस जल्द ही हाईटेक होगी। हरियाणा पुलिस द्वारा पंचकुला में अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित सेंट्रलाइज्ड पुलिस कंट्रोल रुम स्थापित किया जाएगा। हरियाणा एमरजेंसी रिस्पॉन्स सिस्टम के नाम से शुरु किए गए इस प्रोजेक्ट में सरकार द्वारा 154 करोड़ रुपये दिए गए है। यह विश्व का अत्याधुनिक कंट्रोल रुम होगा। जिसमें सूचना प्राप्त होने पर ग्रामीण क्षेत्र में 20 मिनट तथा शहरी क्षेत्र में 10 मिनट में पुलिस मौके पर पहुँचेगी। प्रदेश के हर व्यक्ति तक पुलिस सहायता पहुंचाने के लिए हरियाणा पुलिस द्वारा 630 नई गाड़िया खरीदी जा रही है जिनपर लगभग साढ़े 4 हजार पुलिस कर्मचारी तैनात किए जाएगे। 24 घण्टे पुलिस तैनात रहेंगी। आमजन को कोई भी आपात स्थिति हो पुलिस तुरंत मौके पर पहुंचेगी। इसेस कानून व्यवस्था स्थिती को कायम रखने में भी पूरे राज्य में मद्द मिलेगी। पूरे राज्य से कोई भी व्यक्ति काल करेंगे तो पंचुकला स्थित सेंट्रलाइज्ड पुलिस कंट्रोल रुप में फोन कॉल रिसिव होगा। कम्प्यूटर सिस्टम के द्वारा संबंधित पीसीआर वैन को सूचना भेजी जाएगी। पुलिस निर्धारित समय पर पुलिस सहायता के लिए मौके पर पहुँचेगी। इसके लिए पुलिस को विशेष रुप से ट्रैनिग दी जाएगी।
पुलिस महानिदेशक ने बताया कि हरियाणा पुलिस के अनुसंधानकर्ताओं को टैबलेट दिए जाएगे। तफतीश के दौरान ब्यान दर्ज करने हो, मौके के फोटो/विडियो लेने हो या अन्य कोई तफतीश से संबंधित काम करना हो तो अनुसंधानकर्ता मौके पर ही टैबलेट पर काम कर सकता है। टैबलेट में स्पेशल सोफ्टवेयर होगा जिसके सहायता से मौके पर ही सीसीटीएनएस सोफ्टवेयर में काम कर सकेंगा। टैबलेट में लिए गए फोटोग्राफ/विडियो व डाटा सेंट्रलाइज्ड सर्वर में सेव हो जाएगा जो कभी भी देखा जा सकेंगे। उक्त दोनो हरियाणा पुलिस के बड़े प्रोजेक्ट हो जो 2020-2021 में लागू किए जाएगे।
अवैध शराब की तस्करी को रोकने के लिए आबकारी विभाग के साथ मिलकर 1 अप्रैल से शराब फैक्ट्रियों से निकलने वाली शराब को चैक किया जाएगा। आबकारी विभाग के साथ-2 पुलिस जवान भी 24 घण्टे शराब फैक्ट्रियों के बाहर तैनात रहेंगे तथा फैक्ट्री से निकलने वाली शराब की प्रत्येक गाड़ी की चैकिंग की जाएगी। हरियाणा पुलिस का फोकस अपराध की रोकथाम पर है। यदि हम प्रभावी रुप से गश्त करके, आमजन को जागरुक करके व अन्य साधनों से अपराध को होने से रोकते है तो निश्चित रूप से पुलिस पर काम का बोझ कम होगा। अपराध में गिरावट आएगी। पुलिस की कार्यक्षमता बढ़ेगी। 2020 में हरियाणा पुलिस को मुख्य उददेश्य अपराध की रोकथाम पर होगा। इसके लिए पुलिस गश्त पर विशेष ध्यान दिया जाएगी। पुलिस पब्लिक की शिकायतों पर तुरंत मौके पर पहुंचेगी। अपराधियों पर नकेल कसी जाएगी। आमजन को जागरुक किया जाए।
साईबर अपराध की रोकथाम के लिए हरियाणा पुलिस ने बड़ी पहल शुरू की है। राज्य स्तर पर साईबर अपराध का पुलिस थाना खोला जा रहा है जिसमें अत्याधुनिक हार्डवेयर व सोफ्टवेयर सिस्टम होगे। जिसमें आऊट सोर्सिंग से साईबर एक्सपर्ट लगाए जाएगे। पंचकुला के मनसा देवी कॉमप्लेक्स में साईबर थाना स्थापित किया गया है। एक फोरेंसिक साईबर लेब पंचकुला में स्थापित की जा रही है। जो पूरे राज्य के लिए रिसोर्स सेंटर का काम करेंगी। हर रेंज स्तर पर साईबर थाना खोला जाएगा। हाल में एक राज्य स्तर का साईबर थाना पंचुकला व एक थाना गुरग्राम कमिशनरेट में है। अगले तीन महीनें में रेंज स्तर पर साईबर थाना स्थापित किए जाएगे। इसके अलावा हर जिला स्तर पर व हर थाना में जवानों को साईबर अपराध को सुलझाने के लिए विशेष ट्रैनिंग दी जाएगी। साईबर अपराध के प्रशिक्षण के उपर विशेष जोर रहेंगा।
पुलिस महानिरीक्षक रोहतक रेंज रोहतक संदीप खिरवार ने बताया कि आईआईएम रोहतक हरियाणा के लिए विशेष दर्जा रखता है। जिसमें पूरे देश से छात्र-छात्राएं पढ़ने के लिए आते है। यह पूरे राज्य के लिए एक अनमोल संपत्ति है। आईआईएम को सुरक्षा देना पुलिस का दायित्व बनता है। छात्रों को सुरक्षा का अहसास हो। कोई सामाजिक तत्व काम्पलैक्स में प्रेवश न कर सके। कोई अनहोनी घटना घटित न हो इसके लिए पुलिस चौकी खोली गई है।
पुलिस अधीक्षक रोहतक राहुल शर्मा ने बताया कि आईआईएम द्वारा चौकी का भवन बनाकर दिया गया है। चौकी में एक हाईवे पैट्रोलिंग वैन दी गई है जो हाईवे पर निरंतर गश्त करेंगी। गश्त के लिए अलग से एक राईडर भी दी गई है। लोगो को सुविधा होगी अपराध को रोकने में पुलिस को सहायता मिलेंगी। आईआईएम पुलिस चौकी में आईआईएम काम्पलैक्स, जेल काम्पलैक्स, पुलिस ट्रैनिंग काम्पलैक्स व डीएवी पुलिस पब्लिक स्कूल का क्षेत्र शामिल रहेगा। उप.नि. हरिओम को प्रभारी पुलिस चौकी लगाया गया है। चौकी में प्रभारी के अलावा 12 पुलिस कर्मचारियों को तैनात किया गया है जिसमें महिला पुलिस कर्मचारी भी शामिल है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.