विधायक नयनपाल रावत ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए ट्रेक्टर-ट्राली व भैंसा बुगगी वाहनों को कमर्शियल व्हीकल में शामिल न किए जाने की मांग की

फरीदाबाद ।हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के दौरान पृथला विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं हरियाणा भंडारण निगम के चेयरमैन नयनपाल रावत ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए ट्रेक्टर-ट्राली व भैंसा बुगगी वाहनों को कमर्शियल व्हीकल में शामिल न किए जाने की मांग की। उन्होंने सदन में मुख्यमंत्री की मौजूदगी में कहा कि अक्सर किसान अपने मकान आदि बनवाने के लिए ट्रैक्टर-ट्राली व भैंसा बुगगी में मिट्टी, रेता अथवा बदरपुर लेकर आते-जाते है तो उन्हें पुलिस द्वारा परेशान किया जाता है, जिससे उन्हें परेशानी होती है इसलिए सरकार को किसानों की परेशानी को देखते हुए इस पर पाबंदी लगानी चाहिए, जिस पर प्रदेश के खनन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि मनोहर सरकार किसान हितैषी सरकार है और वह पुलिस प्रशासन को निर्देश जारी करेंगे कि वह ऐसे किसानों को परेशान न करें, जो ट्रैक्टर ट्राली व भैंसा बुगगी से निजी कार्याे के लिए मिट्टी, रेता आदि लाते है।

इसके अलावा नयनपाल रावत ने सदन में अतारांकित प्रश्र के तहत पृथला विधानसभा क्षेत्र में पिछले 5 वर्षाे के दौरान अपग्रेड हुए सरकारी स्कूलों का ब्यौरा मांगते कहा कि उन्हें यह बताया जाए कि पिछले पांच वर्षाे के दौरान सरकार द्वारा कितने स्कूलों को अपग्रेड किया गया है और कितने स्कूलों के भवन व इमारतें बनवाई गई है और इस मद में कितना खर्चाे किया गया है। वहीं उन्होंने पृथला क्षेत्र में लगे उद्योगों मेें 25 प्रतिशत युवाओं को आरक्षण दिए जाने का मुद्दा पुरजोर तरीके से उठाते हुए कहा कि क्या सरकार ने ऐसा कोई प्रावधान रखा है कि जिस क्षेत्र में उद्योग लगे हुए है, उन उद्योगों में स्थानीय युवाओं को 25 फीसदी नौकरी देने का काम किया जाएगा और अगर ऐसा है तो पृथला क्षेत्र में पिछले पांच सालों के दौरान कितने युवाओं को रोजगार हासिल हुआ है। उन्होंने सदन में जोर देते हुए कहा कि अगर सरकार यह सुनिश्चित कर दें कि स्थानीय युवाओं को उद्योगों में 25 फीसदी रोजगार के अवसर दिए जाएंगे तो इससे काफी हद तक बेरोजगारी पर अकुंश लग पाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.