देखिये निगम के खिलाफ बिजली कर्मचारी गरजे

फरीदाबाद  :  हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम के टीएस सर्कल सेक्टर-18 स्तिथ ए-4, पर यूनियन द्वारा प्रबंध निदेशक पंचकूला को 20 जनवरी 2020 में दिये गये एजेन्डे पर कर्मचारियों से सम्बंधित कार्यों के समाधान ना किये जाने को लेकर एचएसईबी वर्कर यूनियन ने टीएस सर्कल फरीदाबाद पर विरोध प्रदर्शन कर एचवीपीएन टीएस सर्कल के अधीक्षक अभियन्ता अनिल यादव को प्रबंध निदेशक के नाम ज्ञापन सौंप। कर्मचारियों के इस प्रदर्शन की अध्यक्षता एचवीपीएन सर्कल सचिव राजेश तेजपाल ने की व मंच का संचालन डीएचबीवीएन के सर्कल सचिव सन्तराम लाम्बा ने किया। प्रादेशिक कर्मचारियों की मुख्य माँगों के सन्दर्भ में विशेषरूप से उपस्तिथ प्रदेश महासचिव सुनील खटाना ने बताया कि एचवीपीएन में कर्मचारियों कामों के प्रति समस्याओं के समाधान करने में भ्र्ष्टाचार चरम पर है । प्रदेश के सभी कर्मचारियों को रिस्क एलाउंस दिया जाए, जीएसटी लागू होने के बाद बड़े हुए लिपिक वर्ग के कार्य व समय के साथ सबस्टेशन पर बढ़ते पावर ट्रांसफॉर्मर, उनकी कैपिसिटी व फीडरों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सबस्टेशन स्टाफ तथा बढ़े हुए 132 केवी व 220 केवी नेटवर्क को ध्यान में रखते हुए प्रस्तावित रीस्ट्रक्चरिंग में लिपिक व टेक्निकल पदों सृजन कर रीस्ट्रक्चरिंग जल्द लागू की जाए, तकनीकी विभाग होने के कारण ड्रॉइंग ब्रान्च इस विभाग का महत्त्वपूर्ण अंग है।

इसीलिये उसमें पदों की समाप्ति के प्रस्ताव को तुरन्त निरस्त किया जाए, कॉन्ट्रैक्ट पर काम कर रहे सभी कर्मचारियों के बीच से ठेकेदार को निकाल कर सीधा निगम के पे रोल पर रखा जाए और इन्हें भी समान काम समान वेतनमान के दायरे में लाया जाए इसके साथ साथ रेग्युलर कर्मियों की ही तरह इन्हें भी छुट्टियों की सुविधा दी जाए, प्रमोशनल पोस्ट पर सीधी भर्ती कर भविष्य में इन्हें प्रमोशनल पोस्ट ही रखा जाए ताकि कर्मचारियों की रूटीन प्रमोशनल का चैनल बन्द ना हो, कर्मचारियों को मिलने वाली फ्री यूनिट्स की सुविधा को मौजूदा परिदृश्य में बढ़ती हुई दैनिक आवश्यकता को देखते हुए घटाने की बजाय बढ़ाया जाए, नई भर्ती के बाद सरप्लस हुए सभी एसए को दूसरी यूटिलिटी में भेजने की बजाय वापिस एचवीपीएन में ही खाली पड़े असिस्टेन्ट लाइनमैन के पदों पर ऐडजस्ट किया जाए, जो कर्मचारी कई वर्षों से एक ही पद पर काम कर रहा है उनकी प्रमोशन के चैनल बनाया जाए, कर्मचारियों के तबादले व प्रमोशन देने में हो रहे व्यापक भ्रष्टाचार पर पूर्णतः अंकुश लगाया जाए, जेई फर्स्ट से असिस्टेन्ट इंजीनियर की प्रमोशन का कोटा सिविल विंग व हरियाणा सरकार की तर्ज पर 35 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत किया जाए, जेई फर्स्ट की सीनियरिटी 2004 के बाद से अपडेट नही की गई है ।

 

जिसके बाद नियमानुसार इनकी अतिशीघ्र प्रमोशन की जाए, जेई व जेई फर्स्ट सहित क्लेरिकल स्टाफ को वर्दी, वाशिंग एलाउंस की सुविधा दी जाए, डिग्री होल्डर जूनियर इंजीनियर की लिस्ट को अपडेट कर हरियाणा सरकार की तर्ज पर एडवान्स इन्क्रीमेंट दी जाए, चपरासी से एलडीसी बने, माली से असिस्टेन्ट लाइनमैन बने, एमएन्डपी, कैरियर स्टाफ तथा सिविल विंग में कर्मचारियों की लाम्बित प्रमोशन शीघ्र की जाए। इस मौके पर केंद्रीय परिषद के राज्य उपप्रधान जगदीश ने अपने वक्तव्य में बताया कि दूसरी यूटिलिटी की तर्ज पर कैशलेस मेडिकल फैसिलिटी के लिये कर्मचारियों के मेडिकल आई कार्ड बनवाये जाए, सभी पावर हाउसों व टीएल विंग में स्टाफ मेंटिनेंस की कमी को दूर किया जाए । प्रदेश उपमहासचिव मुकेश भ्याना व रविन्दर यादव ने अपने वक्तव्य में बताया कि पार्ट टाइम वर्कर को बोनस व कैजुअल लीव दी जाए, दिव्यांग कर्मचारियों की सरकार द्वारा लागू 3 प्रतिशत कोटे के तहत प्रमोशन व एससी कैटेगरी व जीएसओ से जूनियर इंजीनियर की लाम्बित प्रमोशन जल्द की जाए, 2016 में भर्ती हुए जूनियर इंजीनियर समेत सभी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग की विसंगतियों को दूर किया जाए, जब कर्मचारी अपनी पूरी दक्षता के साथ काम कर रहे हैं तो 40 वर्ष के बाद हर वर्ष मेडिकल फिटनेस टेस्ट व उसकी सर्विस बुक में एन्ट्री तथा एसीआर में करने की अनिवार्यता समाप्त की जाए आदि मुख्य कामों के बारे में यूनियन ने एजेन्डे पहले दिया हुआ है ।

 

जिस पर काम नही किये जाने से खफा कर्मचारी आज आक्रोशित और आन्दोलित है यदि समय रहते इन्हें जल्द ही हल नही किया गया तो आगामी समय मे प्रबन्ध निदेशक पंचकूला का घेराव कर धरना दिया जायेगा । इससे उत्पन्न प्रदेश में किसी भी प्रकार की अशान्ति भंग होती है तो उसकी जिम्मेदारी निगम प्रशासन व प्रदेश सरकार की होगी । बिजली कर्मचारी प्रधान लेखराज चौधरी ने बताया कि इसी प्रकार के प्रदर्शन पूरे प्रदेश में जारी जो कि 16 अप्रैल 2020 तक चलेंगे । यदि एमडी एचवीपीएन ने प्रदेश के राज्यप्रधान व राज्यमहासचिव से संवाद कर इन सभी समस्याओं को हल नही किया तो यूनियन आने वाले समय मे ऐसे अधिकारियों का फील्ड व कार्यालयों में घेराव करेगी । इस मौके पर कर्मवीर, डबल सिंह, सुनील, जयभगवान, विजय, जिलेसिंह, जगदीश, महेन्दर, पवन, सुखबीर, बलबीर, मोहपाल, मुकेश रोहिला, असगर खान आदि कर्मचारी नेताओं ने उपस्तिथ कर्मियों को सम्बोधित किया ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.