माता वैष्णो देवी के दर्शनों को जाने वाले हजारों भक्तों के लिए एक खुशखबरी

दिल्ली, हरियाणा व पंजाब से माता वैष्णो देवी के दर्शनों को जाने वाले हजारों भक्तों के लिए एक खुशखबरी है। अब वे छह से आठ घंटे के अंदर ही सड़क मार्ग से कटरा पहुंच जाएंगे। इसके लिए कुंडली मानेसर पलवल (KMP) एक्सप्रेस से जम्मू के कटरा तक 600 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेस हाईवे बनाया जाएगा।

हरियाणा के झज्जर जिले में बहादुरगढ़-सोनीपत सीमा पर बसे गांव निलौठी के पास KMP से यह एक्सप्रेस वे शुरू होगा। हरियाणा में इस एक्सप्रेस वे की लंबाई करीब 135 किलोमीटर की रहेगी। इसके लिए सर्वे पूरा होने के बाद 1500 हेक्टेयर जमीन के अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। मौके पर निशानदेही भी कर दी गई है। दिल्ली से कटरा तक की दूरी को कम करने वाले इस एक्सप्रेस के लिए तीन-चार अलग-अलग रूट का सर्वे किया गया था लेकिन अब KMP से सीधे कटरा तक का रूट फाइनल किया गया है।

झज्जर जिले के गांव निलौठी से शुरू होकर यह एक्सप्रेस वे सोनीपत, रोहतक, गोहाना, जींद, करनाल, कैथल से होता हुआ खनौरी बॉर्डर से पंजाब की सीमा में प्रवेश करेगा। पंजाब के संगरूर जिले से अमृतसर और फिर कटरा तक इसका निर्माण कार्य किया जाएगा। KMP से कटरा तक इस एक्सप्रेस के निर्माण के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) बनाई जा रही है। हरियाणा में इस एक्सप्रेस वे के निर्माण के लिए डीपीआर व अन्य कागजी प्रक्रिया के लिए एनएचएआइ की भिवानी स्थित प्रोजेक्ट इंपलीमेंट यूनिट को जिम्मेदारी दी गई है।

नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआइ) की ओर से इस एक्सप्रेस वे के निर्माण के लिए करोड़ों रुपये का बजट रखा गया है। डीपीआर बनने के बाद ही पता लग सकेगा कि इस एक्सप्रेस के निर्माण कितनी राशि खर्च होगी। इस एक्सप्रेस वे के निर्माण के बाद जम्मू को सड़क मार्ग के जरिये नई दिल्ली तक बेहतर कनेक्टिविटी मिलेगी। इस एक्सप्रेस वे के निर्माण में आने वाली बाधा मसलन फॉरेस्ट क्लीयरेंस जैसी औपचारिकताओं को पूरा किया जा रहा है। इस एक्सप्रेस वे को अमृतसर से भी जोड़ा जाएगा, ताकि श्रद्धालु यहां स्थित स्वर्ण मंदिर के भी दर्शन कर सकें।

छह लेन एक्सप्रेस वे बनाने की प्रक्रिया शुरू

प्रोजेक्ट इंपलीमेंटेशन यूनिट, भिवानी के उपमहाप्रबंधक केएम शर्मा का कहना है कि जम्मू के कटरा तक छह लेन एक्सप्रेस वे बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। यह हरियाणा में झज्जर के गांव निलौठी की सीमा में KMP से शुरू होकर कटरा तक जाएगा। हरियाणा में इस एक्सप्रेस वे की लंबाई 135 किलोमीटर होगी। इसकी कुल लंबाई करीब 600 किलोमीटर होगी और इसके लिए हरियाणा में करीब 1500 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.