देखिये, फरीदाबाद में भी प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र की शुरुआत

फरीदाबाद  : जन औषधि दिवस पर देश के अन्य भागों की तरह फरीदाबाद में भी प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र की शुरुआत की गई। इसका केंद्र एससीओ सेक्टर-37 की मार्किट में खोला गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर मौजूद रहे। देश भर में विभिन्न केंद्रों पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने इस योजना के संबंध में आमजन से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत कर उनके विचार व अनुभव इस योजना बारे सांझा किए।

इस अवसर पर कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि श्री नरेंद्र मोदी देश के पहले ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो गरीबों, जरूरमदों के हितों के लिए गंभीरता से प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि पहले बीमारी के दौरान लोगों का इलाज और उसके बाद दवा खरीदने में काफी पैसा लग जाता था। जो इस योजना के लाभ लेने पर नहीं होगा। इस योजना के अंतर्गत दवा के लिए 50 से 90 प्रतिशत तक खर्च कम होगा।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आमजन के दवा के खर्च को कम करने के लिए 2015 में प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि योजना शुरू की थी। इस योजना का उद्देश्य देशभर में बीमार व जरूरमंद लोगों को कम दाम में बेहतर दवा उपलब्ध करवाना है। जनऔषधि केंद्रों पर जेनरिक दवाएं 90 फीसदी तक सस्ती मिलती हैं। उन्होंने बताया कि जन औषधि केंद्र में दवाओं की कीमत कम होने से लोगों को बहुत लाभ हुआ है। आयुष्मान योजना के तहत गरीब परिवारों का पांच लाख रुपये तक का इलाज निशुल्क करवाया जा रहा है। इस योजना से अब तक करीब 90 लाख लोग लाभान्वित हो चुके हैं। स्टंट और घुटनों के इलाज का रेट घटने से भी आम लोगों को काफी राहत मिली है। फरीदाबाद के जो भी लोग सस्ती और प्रमाणिक दवाइयां चाहते हैं। वह सेक्टर-37 स्थित जन औषधि केंद्र में आकर लाभ ले सकते हैं।

इस मौके पर जन औषधि केंद्र सेक्टर-37 के संचालक अनिल खुराना ने कहा कि केंद्र में नौ सौ तरह की दवाइयां और डेढ़ सौ प्रकार के सर्जिकल एसेसरीज उपलब्ध हैं। कार्यक्रम में पार्षद जितेंद्र यादव, उमा शंकर गर्ग, मदन पुजारा धर्मराज राव, कपिल कुमार, सुनील राव, महावीर यादव, अर्जुन वालिया, सुभाष गुप्ता, बाबूलाल गुप्ता, कुसुम महाजन, ज्ञानचंद भड़ाना, हकीमचंद सरदाना, राजबाला सरदाना, के.के. शर्मा, वीरेंद्र शर्मा तथा संजय मंगला सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.