देश में कोरोना वायरस के अबतक 37 मामले

देश में कोरोना का कहर अभी थमता नहीं दिख रहा है। शनिवार को देश में इसके छह नए मामले सामने आए। इनमें दो पंजाब, दो लद्दाख और एक-एक मामले आगरा व तमिलनाडु से हैं। इसके साथ ही देश में कोरोना से ग्रसित हो चुके लोगों की संख्या 37 हो गई है। इनमें सबसे पहले सामने आए केरल के तीन मरीज ठीक हो चुके हैं।

इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर इससे निपटने की तैयारियों की समीक्षा की और लोगों से अफवाहों से दूर रहने की अपील की। एहतियात बरतते हुए लोकसभा की दर्शकदीर्घा को बंद करने का फैसला किया गया है। मरीजों की ब़़ढती संख्या को देखते हुए 52 टेस्टिंग लैब और 57 कलेक्शन सेंटर बनाए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोरोना वायरस से तीन नए मरीजों की पुष्टि करते हुए कहा कि इनमें दो लद्दाख और एक तमिलनाडु से हैं। लद्दाख वाले दोनों हाल में ईरान सेलौटे थे, जबकि तमिलनाडु का व्यक्ति ओमान गया था। कोरोना वायरस की पुष्टि होने के बाद उन्हें आइसोलेट कर इलाज शुरू कर दिया गया है और उनके संपर्क में आने वाले लोगों की पहचान की जा रही है ताकि उन्हें 14 दिनों तक निगरानी में रखा जा सके।

इनके अलावा पंजाब में होशियारपुर के रहने वाले पिता-पुत्र में वायरस की पुष्टि हुई है। अभी अंतिम जांच के लिए इनके सैंपल पुणे भेजे गए हैं। वहीं, आगरा में जिन पांच व्यवसायियों में वायरस की पुष्टि हुई थी, अब उनका नौकर भी संक्रमित पाया गया है।

दूसरी ओर, भूटान में कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए गए दो अमेरिकी नागरिकों के साथ भारत में यात्रा के दौरान संपर्क में आने वाले 150 लोगों की पहचान पूरी कर ली गई और उन्हें निगरानी में रखा गया है। चीन के अलावा दूसरे देशों से भारत में कोरोना वायरस के घुसने से चेती सरकार ने सभी विदेशी यात्रियों की स्क्रीनिंग अनिवार्य कर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.