कमलनाथ के मंत्री जीतू पटवारी से हाथापाई बेंगलूरु में

नई दिल्ली । मध्य प्रदेश में जारी उठापटक के बीच कांग्रेस नेता मप्र सरकार के मंत्री जीतू पटवारी बेंगलुरू में मध्य प्रदेश से आए कांग्रेस के बागी विधायकों से मिलने की कोशिश कर रहे थे। तभी उनकी एक पुलिस कर्मी के साथ हाथापाई हुई।

बताया जा रहा है कि कांग्रेस के बागी विधायकों से मनाने बेंगलुरु गए मंत्री जीतू पटवारी और लाखन सिंह को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। उनके साथ बागी विधायक मनोज चौधरी के पिता नारायण चौधरी भी थे। कांग्रेस का आरोप है कि पुलिस ने पटवारी, लाखन सिंह और मनोज चौधरी के पिता के साथ बदसलूकी की। कांग्रेस का आरोप है कि ये सब भाजपा के इशारे पर किया गया है। कांग्रेस ने मामले को सुप्रीम कोर्ट ले जाने की बात कही है।

कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने आरोप लगाया है कि मंत्री जीतू पटवारी के साथ बेंगलुरु में मारपीट की गई। पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है। तन्खा ने कहा कि पटवारी मंत्री लाखन सिंह के साथ अपने रिश्तेदार और विधायक मनोज चौधरी से मिलने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट जाएंगे।

मनोज चौधरी के पिता को लेकर पहुंचे थे जीतू पटवारी और लाखन सिंह

जीतू पटवारी और लाखन सिंह इस्तीफा दे चुके विधायक मनोज चौधरी के पिता नारायण चौधरी को लेकर बेंगलुरु गए थे। राज्यसभा सांसद तन्खा ने बताया कि मनोज चौधरी पर भाजपा ने दबाव बनाया हुआ है। उन्हें अपने पिता से मिलने तक नहीं दिया गया।

पुलिसवालों ने की मंत्रियों के साथ बदसलूकी: कांग्रेस

कांग्रेस का आरोप है कि कमलनाथ के मंत्री जीतू पटवारी और लाखन सिंह विशेष योजना के साथ बेंगलुरु में मौजूद 9-10 बागी विधायकों को भाजपा के बाहर निकालने में सफल हो गए थे। परंतु ऐन वक्त पर भाजपा के दबाव में काम कर रही पुलिस उन्हें अंदर कर दिया। पुलिसवालों ने जीतू पटवारी और लाखन सिंह के साथ बदसलूकी की।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.