कमलनाथ ने राज्यपाल को सौंपा पत्र

मध्य प्रदेश के सियासी घमासान के बीच आज मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राजभवन में राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन को पत्र सौंपा, जिसमें विधानसभा के आगामी सत्र में अध्यक्ष द्वारा निर्धारित तिथि पर फ्लोर टेस्ट की मांग की गई है।उन्होंने राज्यपाल को एक पत्र सौंपकर बेंगलुरू में मौजूद 22 बागी विधायकों की रिहाई सुनिश्चित कराने की भी मांग की।

करीब 22 कांग्रेसी विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार गिरने की कगार पर है।मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन से इस्तीफा देने वाले विधायकों को बर्खास्त करने की सिफारिश कर चुके हैं। इस पर राज्यपाल शुक्रवार को फैसला कर सकते हैं। उधर भाजपा अपना पूरा जोर लगा रही है।भाजपा की कोशिश 16 मार्च से शुरू होने वाले विधानसभा के बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण से पहले सदन में बहुमत परीक्षण (फ्लोर टेस्ट) कराने की है।

MP Political Crisis LIVE Updates:

– राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि राज्यपाल के अभिभाषण और बजट के बाद फ्लोर टेस्ट होगा लेकिन यह तभी संभव है जब 22 विधायकों को कैद से मुक्त किया जाए।

– मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात के दौरान एक पत्र सौंपा, जिसमें विधानसभा के आगामी सत्र में अध्यक्ष द्वारा निर्धारित तिथि पर फ्लोर टेस्ट का अनुरोध किया गया है।

– मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल के राजभवन में राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की। सीएम ने राज्यपाल को एक पत्र सौंपा जिसमें बीजेपी द्वारा कांग्रेस विधायकों की हार्स ट्रेडिंग का आरोप लगाया गया और राज्यपाल से अनुरोध किया गया कि वे बेंगलुरु में कैद में रखे गए विधायकों की रिहाई सुनिश्चित करें।

– मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ राजभवन पहुंच गए हैं। राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने के लिए भोपाल के राजभवन पहुंचने पर विजयी मुद्रा दिखाते हुए हाथ लहराए।

– इस बीच बेंगलुरू में भी सिंधिया समर्थकों से इकट्ठा होने की सूचना मिल रही है, जहां करीब 19 विधायक ठहरे हुए हैं। कांग्रेस का आरोप है कि बेंगलुरू में विधायकों को बंदी बनाकर रखा गया है।

कांग्रेस के 22 बागी विधायकों को नोटिस

मध्य प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने कांग्रेस के 22 बागी विधायकों को नोटिस भेजकर आज मिलने के लिए बुलाया है। इन विधायकों से यह पूछा गया है कि क्या उन्होंने अपनी इच्छा से इस्तीफा दिया है या किसी के दबाव में आकर उन्होंने ऐसा किया।

होली की छुट्टी से वापस लौटे राज्यपाल

राज्यपाल लालजी टंडन गुरुवार को भोपाल लौट आए। राज्य के 22 विधायकों ने विधानसभा के सदस्य के रूप में इस्तीफा दे दिया है।इनमें से 19 विधायक बेंगलुरु में हैं। इस बीच, राज्य सरकार ने राज्यपाल से बेंगलुरु जाने वाले छह मंत्रियों को बर्खास्त करने का आग्रह किया है।राज्यपाल होली की छुट्टी पर 8 मार्च को लखनऊ गए।राज्य में तेजी से बदलते घटनाक्रम के बीच, ऐसी अटकलें थीं कि राज्यपाल उनकी छुट्टी रद्द कर सकते हैं और वापस लौट सकते हैं।एक अधिकारी के अनुसार, राज्यपाल गुरुवार रात को वापस लौटे।

22 विधायकों ने दिया इस्तीफा

राज्य सरकार के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, तुलसी सिलावट, प्रभुराम चौधरी, महेंद्र सिंह सिसोदिया के अलावा विधायक हरदीप सिंह डंग, जसप्रीत सिंह जाजी, राजवर्धन सिंह, ओपीएस भदोरिया, मुन्ना लाल गोयल, रघुराज सिंह, कंसराज सिंह, कश्यप सिंह बृजेंद्र सिंह यादव, सुरेश धाकड़, गिर्राज दंडौतिया, रक्षा संतराम सिरोंया, रणवीर जाटव, जसवंत जाटव पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.