पाली के ग्रामीणों को क्यू मरवाना चाहती है सरकार- भड़ाना

फरीदाबाद: पाली गांव में प्राथमिक चिकित्सालय में कोरोना का आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है जिसकी पुष्टि अस्पताल में कार्यरत डाक्टर ने कर दी है। आज सुबह से ही गांव के सैकड़ों लोग अस्पताल प्रांगण में प्रदर्शन कर रहे हैं। पहले इसे सिर्फ अफवाह बताया जा रहा था लेकिन डाक्टर की पुष्टि के बाद गांव वाले नाराज हैं जिनका कहना है कि ये अस्पताल गांव के बीच में है और अस्पताल के एक तरफ लड़कियों का स्कूल तो दूसरी तरफ लड़कों का स्कूल और सामने स्टेडियम है। अगर कोरोना के मरीज यहाँ लाये जाएंगे तो उन्हें बच्चों सहित पूरे गांव को खतरा है इसलिए वो किसी भी हालत में यहाँ आइसोलेशन सेंटर नहीं बनने देंगे।
डाक्टर सुधीर जो आयुष मेडिकल आफिसर हैं उन्होंने बताया कि एएमटी मानेसर में आइसोलेशन सेंटर बना है जो कोरोना के संभावित मरीजों से फुल है इसलिए फरीदाबाद के तिगांव और पाली में आइसोलेशन सेंटर बनाने का आदेश सरकार ने दिया है। आइसोलेशन सेंटर बनने की पुष्टि के बाद गांव के लोग वहाँ धरने पर बैठ गए हैं। आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने कहा कि जल्द आदेश वापस न लिए गए तो ग्रामीण हॉस्पिटल के बाहर ताला जड़ देंगे। उन्होंने कहा कि सरकार यहाँ के युवाओं को रोजगार नहीं दे सकती ,कभी यहाँ बूचड़खाना लाती है तो कभी कोरोना के मरीज लाकर यहाँ के ग्रामीणों को बेमौत मरवाने का प्लान बनाती है। उन्होंने कहा कि यहाँ किसी भी हालत में आइसोलेशन सेंटर नहीं बनने दिया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.