कर्नाटक में कोरोना वायरस से पहली मौत होने के बाद से राज्य में अलर्ट जारी

कर्नाटक में कोरोना वायरस से पहली मौत होने के बाद से राज्य में अलर्ट जारी हो गया है। हुबली सिटी में बसों में बस ड्राइवर और कांट्रेक्टर ने यात्रियों को इस संक्रमण से बचने के लिए मास्क बांटे। कांट्रेक्टर एम एल नडाफ ने बताया कि हमने बसों में मास्क बांटने कि यह पहल इसलिए कि है क्योंकि कोरोना वायरस के कारण ज्यादातर लोग यात्रा करने से बच रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने सरकार से लोगों में फ्री मास्क बांटने के लिए अनुरोध किया।

बता दें कि मास्क बांटने के अलावा हुबली रेलवे स्टेशन पर विशेष चिकित्सा सहायता डेस्क सेटअप भी किया गया ताकी लोगों में इस वायरस को लेकर जागरुकता फैलाई जा सके। न्यूज एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, हबबॉलि-धारवाड़ डिविजिन में कोरोना वायरस का कोई भी पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया है।

चीन के वुहान से फैले कोरोना वायरस से वैश्विक तौर पर 5 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 1 लाख से ज्यादा लोग इस वायरस संक्रमित पाए गए हैं। भारत में भी यह वायरस तेजी से फैलता जा रहा है। भारत में अबतक 83 केस सामने आए हैं, जिसमें से 2 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना का संक्रमण सबसे पहले केरल में सामने आया था हालांकि इस राज्य में किसी अभी तक इस वायरस से मौत नहीं हुई है। सबसे पहली मौत कर्नाटक में हुई थी। इसके अलावा दूसरी मौत दिल्ली में हुई।

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास शुरू हो गए हैं । स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक दिल्ली, हरियाणा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, केरल, उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत कम से कम 13 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना के मामले सामने आए हैं। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इसे हेल्थ इमरजेंसी नहीं करार दिया है और लोगों से भयभीत नहीं होने की अपील की है। वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस महामारी घोषित कर दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.