बदलाव हमारी कोशिश चेरिटेबल ट्रस्ट ने ग्रामीण क्षेत्रों की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को वुमंस हाइजिन पर जागरुक किया

फरीदाबाद :  बदलाव हमारी कोशिश चेरिटेबल ट्रस्ट ने भी एक कोशिश की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को वुमंस हाइजिन पर जागरुक करने की क्योंकि ट्रस्ट का मानना है कि ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे आंगनवाड़ी केंद्र की सभी कार्यकर्ता अपने गांव के आसपास और अपने केंद्र के आसपास के सभी महिलाओं से परिचित होते हैं और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को अपने आसपास के समस्याओं के बारे में भी जानकारी होती है, एक महिला होने के नाते आंगनवाड़ी कार्यकर्ता अपने आसपास की महिलाओं की परेशानियों को अच्छे से समझती हैं

और उनका समाधान करने की भी कोशिश करती हैं बदलाव की एक कोशिश थी कि अगर हम इन कार्यकर्ताओं को वुमंस हाइजिन पर जागरुक कर कर सकें तो आने वाले टाइम में बदलाव ने जो मुहिम शुरू की थी , गांव गांव जाकर महिलाओं को व्यक्तिगत समस्याओं के बारे में जागरूक करना , महिलाओं के स्वास्थ्य के बारे में उनको जानकारी देना , उनके पीरियड टाइम को लेकर स्वच्छता अभियान चलाना, क्योंकि आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में मासिक धर्म को लेकर स्वच्छता और जागरूकता नहीं है,आज भी बहुत से गांवों में महिलाएं अपने स्वास्थ्य बहुत ही परेशानियों का सामना करती है ,

आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं अपने मासिक धर्म में कपड़ा इस्तेमाल करती हैं या घटिया सामग्री से बना सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करती हैं उनको पता ही नहीं होता कि मासिक धर्म में कपड़ा या खराब सैनिटरी नैपकिन इस्तेमाल करने से उनके स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर पड़ता है। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बदलाव टीम के द्वारा वुमंस हाइजिन पर चलाए जा रहे जागरुक अभियान में बहुत ज्यादा सहयोग कर सकते हैं , यही कारण था कि आज सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को जागरूक किया गया और सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को काॅटन सेनेटरी नैपकिन उपलब्ध कराए गए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.