20 पर एफआइआर, भारी पड़ा लॉकडाउन के नियम तोड़ना

फरीदाबाद : कोरोना वायरस को लेकर अपना जिला लॉकडाउन है, पर कुछ लोग लॉकडाउन के नियम तोड़ने पर आमादा है। मस्ती के इरादे से घर से बाहर निकले ऐसे लोगों पर अब पुलिस सख्ती दिखा रही है। सोमवार को भी पुलिस ने ऐसे 251 लोगों के चालान किए थे और मंगलवार शाम तक भी 110 चालान किए गए। इनमें 22 वाहनों को भी जब्त किया गया। मतलब लोग सोमवार के मुकाबले मंगलवार को बहुत कम निकले। ऐसी उम्मीद है कि लोग जागरूक होकर घरों में ही रहेंगे। इसके अलावा 20 एफआइआर भी दर्ज की गई। इनमें कई ऐसे दुकानदारों के खिलाफ भी मुकदमे दर्ज किए गए, जिन्होंने लॉकडाउन के बावजूद दुकानें खोली हुई थी। हाईवे पर लगी वाहनों की कतार

पुलिस द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग से जिले में प्रवेश करने वाले वाहनों को रोकने के लिए सीकरी में नाकाबंदी की हुई है। मंगलवार को काफी संख्या में बड़े व छोटे वाहनों की लंबी कतार लग गई, पर पुलिस ने एक को भी जाने नहीं दिया। हालांकि पलवल जाने के लिए भी गदपुरी के पास नाकाबंदी की हुई है, जिससे जिले से लोग पलवल नहीं जा सकते। इस दौरान हाईवे के आसपास लगते गांवों के ग्रामीणों ने भूखे-प्यासे वाहन चालकों को खाना दिया। मास्क न पहनने वालों को भेजा वापस

ओल्ड फरीदाबाद में पुलिस द्वारा लगाई गई नाकाबंदी के दौरान कुछ वाहन चालक ऐसे थे जो जरूरी काम से जा रहे थे। पुलिस ने उन्हें रोककर मास्क पहनने के लिए घर वापस भेजा। साथ ही कुछ वाहन चालकों को बेवजह सड़क पर आने के लिए कड़ी फटकार लगाई। दुकानदारों को किया जागरूक

कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने दुकानदारों को जागरूक किया। दुकानदारों को बताया गया कि किसी भी दुकान पर पांच लोगों से अधिक इकट्ठा न हो। पांच लोग भी लाइन लगाकर कम से कम डेढ़ मीटर का फासला रख कर सामान खरीदें। अगर आदेश का पालन नहीं किया गया तो सख्ती बरती जाएगी। पुलिस आयुक्त केके राव ने इस तरह के आदेश थाना व चौकी इंचार्ज को दिए हैं। आयुक्त ने यह भी कहा है कि सभी प्रभारी दुकानदारों को भी जागरूक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.