जानिये, हरियाणा में गुलाबी, पीले ही नहीं बल्कि हरे कार्ड वालों को भी मिलेगा सस्ता राशन

हरियाणा में मनोहर सरकार ने सभी वर्गों का ध्यान रखते हुए गुलाबी और पीले कार्ड और खाकी कार्ड वालों को दोगुना राशन निशुल्क देने के आदेश दिये हैं वहीं हरे कार्ड वालों को भी रियायती दरों पर राशन प्राप्त कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि महामारी के कारण सभी वर्गों पर इसका बुरा असर पड़ रहा है। जिसके चलते यह फैसला लिया गया है।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के तहत तीन महीने का राशन पहले ही डिपो में पहुंचा दिया गया है और सभी गुलाबी, पीला और खाकी कार्ड धारकों को दोगुना राशन निशुल्क दिया जाएगा। इस राशन में चीनी और सरसों का तेल भी शामिल है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा, राज्य सरकार ने फैसला किया है कि अब से, गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) कार्ड धारक भी बाजार दरों की तुलना में कम दरों पर डिपो से राशन प्राप्त कर सकते हैं।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत अप्रैल माह के दौरान उपभोक्ताओं को गेहूं, फोर्टिफाइड आटा, चीनी, सरसों का तेल नि:शुल्क वितरण किया जा रहा है। राज्य के कुछ जिलों में गेहूं का वितरण 80 से 85 प्रतिशत किया जा चुका है। केन्द्र सरकार द्वारा शीघ्र ही 2880 मीट्रिक टन दाल प्रति मास सभी 27 लाख अंत्योदय अन्न योजना, बीपीएल तथा अन्य प्राथमिक पात्र परिवारों को अप्रैल, मई तथा जून में नि:शुल्क वितरण करवाने के लिए उपलब्ध करवाई जाएगी। इसके अलावा, भारत सरकार द्वारा अप्रैल, मई तथा जून के लिए पाँच किलोग्राम अतिरिक्त गेहूं प्रति सदस्य प्रति मास नि:शुल्क वितरण करवाने के लिए उपलब्ध करवाई जाएगी। इस प्रकार, उपभोक्ताओं को इस दौरान दोगुणा राशन उपलब्ध होगा।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत उपभोक्ताओं को राशन वितरण के लिए राशन डिपों को ज्यादा समय तक खोलने के निर्देश दिए गए हैं और वितरण के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करने को भी कहा गया है। उन्होंने बताया कि अम्बाला, भिवानी, कुरुक्षेत्र जिलों में उपभोक्ताओं को उनके घर द्वार पर ही राशन उपलब्ध करवाया गया और इसके अच्छे परिणाम को देखते हुए इसे पूरे राज्य में लागू करने के इंतजाम किये जा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.