कालिंदीकुंज मार्ग को खुलवाने के लिए अधिवक्ताओं ने उपायुक्त यशपाल यादव के द्वारा गृहमन्त्री को ज्ञापन सौपा

फरीदाबाद ; यह मार्ग फरीदाबादवासियों के लिए अहम मार्ग है इस मार्ग से हजारों लोगा प्रतिदिन ग्रेटर नोएडा जाने के लिए इस्तेमाल करते है इस मार्ग को तुरन्त खुलवाने की मांग की । इस मार्ग को कुछ लोगों ने महीने भर से बन्द किया हुआ है इससे लोगों को बहुत परेशानी हो रही है। बार काऊंसिल के पूर्व मनोनित सदस्य शिवदत्त वशिष्ठ ने कहा कि यह मार्ग महत्वपूर्ण है दिल्ली सरकार को तत्काल इस रोड को खाली कराया जाना चाहिए। इस रोड को बन्द होने से अधिवक्ता ग्रेटर नोएडा की कोटो में समय पर नहीं पहुँच पा रहे है जिससे केस एक्स पार्टी हो रहे है। अधिक्तर अधिवक्ताओं के बच्चों लॉ करने के लिए अमेटी, जिमस कॉलेज में लॉ के विद्यार्थी है

इस रोड को बन्द होने से वह अपने घरों में बैठे हुए है अधिकतर फरीदाबाद वासियों के रिश्तेदारिया ग्रेटर नोएडा में है इस रोड को बन्द होने से वह अपने रिश्तेदारों से नहीं मिल पा रहेे है। अधिकतर फरीदावासियों को दिल्ली होकर जाना पड़ रहा है जिससे उन्हें लगभग 3-4 घंटे लग रहे है और उन्हे जाम से जुझना पड़ रहा है वरिष्ठ अधिवक्ता कंवर दलपत सिंह ने कहा कि उस रोड पर कुछ लोग सी0ए0ए0 का विरोध कर रहे है यह कानून किसी की नागरिका छीनने वाला नहीं बिल्लुक नागरिका देने वाला कानून है।

इससे देशवासियों को घबराने की बात नहीं है। इस मौके पर वरिष्ठ अधिवक्ता अजय पाराशर, प्रदीप परमार, राजेन्द्र शर्मा, पूर्व महासचिव, राजेश बैसला, सतबीर शर्मा, सतेन्द्र रावत, शुभम भारद्वाज, मनोज नागर, प्रमोद गुन्ता, भूपेन्द्र वत्स, प्रेमचन्द सैनी, रविन्द्र रावत, रमेश नागर, एम0पी0 नागर, मुबीन खान, हेमराज कपासिया, सतपाल नागर, संजय दीक्षित, लक्ष्मण तंवर, बिल्लू धनकड, मनोज कुमार, विजय यादव, ललित बैसला, होती लाल डागर, नरेन्द्र कुमार अफाख खान, कुलदीप जोशी, आदि सैकडो अधिवक्ता मौजूद थे।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.