रोजगार मेला बेरोजगारों के साथ सबसे बड़ा धोखा

फरीदाबाद  : बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए जिला रोजगार कार्यालय द्वारा अलग-अलग स्थानों पर रोजगार मेलों का आयोजन किया जाता है। जिसमें कंपनियां आकर बच्चों के इंटरव्यू लेती है और उनको रोजगार देती हैं लेकिन फरीदाबाद जिला कार्यालय द्वारा फरीदाबाद के सेक्टर 16 में लगाया गया रोजगार मेला खानापूर्ति के सिवाय कुछ नहीं है। इस मेले में आने वाले बेरोजगार युवाओं का कहना है कि मेले में सिर्फ अधिकारी खानापूर्ति कर रहे हैं जबकि बच्चों को किसी प्रकार की कोई सहायता इस मेले से रोजगार के लिए नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि वह पिछले कई बार से इन रोजगार मेलों में आ रहे हैं और हर बार उनका इंटरव्यू लेने के बाद , बाद में फोन करने के लिए कहा जाता है लेकिन वह फोन कभी नहीं आता। उन्होंने कहा कि सेक्टर 16 में लगे इस रोजगार मेले में भी उनके साथ यही हुआ है। उन्होंने कहा कि कंपनियां आती तो है लेकिन सिर्फ खानापूर्ति करने के लिए कंपनियों के जो लोग इंटरव्यू लेते हैं, बाद में युवाओं को वह कितनी तनखा देते हैं उनको बुलाते हैं या नहीं बुलाते इसको लेकर जिला रोजगार कार्यालय के अधिकारियों के द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जाता। उन्होंने कहा कि अब वह इन मेलों में जा जाकर थक चुके हैं और अब उन्हें कोई उम्मीद नहीं है कि उन्हें इन मेलों से कोई नौकरी मिलेगी या नहीं।
जिला रोजगार कार्यालय फरीदाबाद के अधिकारी एसएस रावत ने कहा कि उनकी जिम्मेदारी है युवाओं और कंपनियों को एक प्लेटफार्म पर लेकर आना। कंपनी की कितनी रिक्वायरमेंट है, किस तरह के युवा को अपने यहां नौकरी पर रखती है और उस को कितनी तनखा देती है। ये कंपनी का काम है। उन्होंने कहा कि वह अपना काम कर रहे हैं। अथार्थ काम सभी अधिकारी कर रहे हैं परिणाम चाहे शून्य ही आ रहा हो।
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.