एनआईटी क्षेत्र की समस्याओं को लेकर केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर से मिले पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना

फरीदाबाद  : एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में व्याप्त पानी, सडक़ें व अन्य समस्याओं को लेकर क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं वरिष्ठ भाजपा नेता नगेंद्र भड़ाना ने शनिवार को केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर से उनके सेक्टर-28 स्थित कार्यालय पर मुलाकात की और उन्हें क्षेत्र की समस्याओं के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में पीने के पानी की कमी है, पर्याप्त पानी सप्लाई न होने के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है वहीं उन्होंने मंत्री श्री गुर्जर को हार्डवेयर चौक से बाबा दीप सिंह चौक (प्याली चौक) की ओर जाने वाली सडक़ की अधूरी लाईन को जल्द आरएमसी बनवाकर पूरा करवाने की भी मांग रखी।

 

 

 

इसके अलावा डबुआ-पाली रोड पर स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर के साथ बंद पड़े कम्युनिटी सेंटर व डबुआ-पाली रोड पर भी काम शुरू करवाने के लिए कहा। साथ ही साथ 17 नंबर चुंगी के पास सूर्य नारायण मंदिर के पास बने पानी के नए बूस्टर में बिजली का मीटर लगवाने, पुराने वार्ड नंबर 9 में 55 फुट रोड का निर्माण जल्द से जल्द करवाने तथा एनआईटी क्षेत्र में जलभराव की समस्या से निजात पाने के लिए मानसून की बरसातों से पहले सभी नाले-नालियों की सफाई करवाने की भी समस्या रखी। सभी समस्याओं को सुनने के बाद केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने संबंधित अधिकारियों को तुरंत फोन करके सभी समस्याओं के जल्द निराकरण के निर्देश अधिकारियों को जारी किए। केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि एनआईटी क्षेत्र में बेशक भाजपा का विधायक न हो, लेकिन पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना जिस प्रकार से जनता के जनप्रतिनिधि बनकर क्षेत्र की समस्याओं को हल करवाने में जुटे है, वह सराहनीय है l

 

 

और हरियाणा सरकार एनआईटी क्षेत्र के विकास में कोई कोर कसर बाकि नहीं छोड़ेगी और सभी समस्याओं को जल्द से जल्द निराकरण करवाया जाएगा। इस मौके पर पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना सहित अन्य मौजूद लोगों ने केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर का आभार जताया। इस अवसर पर मुख्य रूप से पूर्व पार्षद गजेंद्र पाल, पार्षद महेंद्र सरपंच, सुरेंद्र भड़ाना, मामचंद प्रधान, रामलाल कुंडू (सरपंच), अमित नंबरदार सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.