गांव स्याणा में फंसे पशुपालकों को रामबिलास शर्मा ने तुरंत पहुंचाई राहत

भिवानी  : एक ट्वीट के जरिए सूचना पाकर पूर्व शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा ने गांव स्याणा में अपने मवेशियों के साथ फंसे 12 पशुपालक परिवारों को तुरंत सहायता करते हुए प्रभावितों को राहत पहुंचाई। ये परिवार लॉकडाऊन के दौरान गांव स्याणा में फंसे हुए है। जो लॉकडाऊन से पहले अपने पशुओं को चराने के लिए आए थे। ये पशुपालक अपने दुधारू पशुओं का दूध बेचकर अपनी आजीविका चलाते है। लॉकडाऊन के चलते उनका दूध बचने का काम बंद हो गया, जिसके कारण उनके भूखा मरने और पशुओं के लिए चारे का संकट खड़ा हो गया।

 

योगेश्वर गर्ग नामक एक व्यक्ति ने ट्वीट के जरिए हरियाणा के पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा को इन पशुपालकों की सहायता करने की गुहार लगाई। ट्वीट द्वारा की गई इस गुहार पर पूर्व शिक्षा मंत्री ने तुरंत कार्रवाई करते हुए पुशपालकों के लिए भोजन व मवेशियों के लिए चारे की व्यवस्था करके उन्हे राहत पहुंचाई। इसके लिए ट्वीट के जरिए ही वापिस पूर्व शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा का धन्यवाद किया गया। श्री शर्मा ने कहा कि कोरोना वायरस के खतरे को रोकने के लिए किए गए लॉकडाऊन के दौरान किसी भी व्यक्ति को भूखा नही रहने दिया जाएगा। जरूरतमंद की हर संभव सहायता की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.