GST धोखाधड़ी मामले में निर्यातक कंपनियों के डायरेक्टर गिरफ्तार

परिधान निर्यातक कंपनियों के दो निदेशकों को जीएसटी धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार किया गया है। डायरेक्टरेट जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलीजेंस (डीजीजीआइ) ने बताया कि आस्था अपैरल्स प्राइवेट लिमिटेड और अन्य पर जीएसटी रिफंड मामले में 61 करोड़ रुपये की हेराफेरी का मामला दर्ज किया गया है। डीजीजीआइ ने यह मामला इसी महीने की छह तारीख को दर्ज किया था।

इन कंपनियों पर फर्जी रसीद के आधार पर इनपुट टैक्स क्रेडिट फ्राड का आरोप है। ये फर्जी रसीदें ऐसी कंपनियों के नाम पर जारी की गई हैं, जो काम नहीं कर रही हैं या सर्कुलर ट्रेडिंग की आरोपित हैं। डीजीजीआइ ने बताया कि शनिवार को इन कंपनियों के दो निदेशकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक इन निर्यातक कंपनियों को माल उपलब्ध कराने वाली अन्य कंपनियां फर्जी तरीके से काम कर रही थीं और चंद लोग ही इनका संचालन कर रहे थे।

यहां तक की इनके संचालकों पर भी धोखाधड़ी सहित कई तरह के आरोप भी हैं।डीजीजीआइ ने बताया कि आरोपित कंपनियां बहुत ही जटिल सर्कुलर नेटवर्क बनाकर धोखाधड़ी को अंजाम दे रही थीं। यह कंपनियां इनपुट टैक्स क्रेडिट के लिए जरूरी मानकों के तहत वस्तुओं का निर्यात नहीं कर रही थी। इस मामले में संलिप्त अन्य लोग नियामक

Leave A Reply

Your email address will not be published.