आप भी हो जाइए सावधान, गले में तेज दर्द और लूज मोशन… कहीं कोरोना तो नहीं

image source : google

XE Variant मास्क उतारकर फेंक देने वाले सावधान हो जाएं। कोरोना संक्रमण नए सिरे से उभर रहा है। गले में तेज दर्द, पेट दर्द, लूज मोशन एवं हल्का बुखार इसके खास लक्षण हैं। मेडिकल कालेज के माइक्रोबायोलोजिस्ट डा. अमित गर्ग ने बताया कि नया संक्रमण एक्सई वैरिएंट की वजह से है। यह ओमिक्रान का ही दूसरा रूप है, लेकिन जीनोम सिक्वेंसिंग के बाद ही स्थिति साफ होगी।

 

 

कोरोना की नई लहर संभव

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि नई दिल्ली-गाजियाबाद में ज्यादातर संक्रमण बच्चों में मिला है, लेकिन वयस्क भी रिस्क में हैं। सांस एवं छाती रोग विशेषज्ञ डा. वीरोत्तम तोमर का कहना है कि कोरोना की नई लहर संभव है। नई दिल्ली में संक्रमण की दर 4.5 प्रतिशत पार कर चुकी है। इस बार कोरोना वायरस गले में तेज दर्द उभार रहा है। लूज मोशन और बुखार वाले मरीजों में भी कोरोना मिला है। एक माह में कोविड संक्रमण बढऩे की आशंका है। ऐसे लक्षण वाले मरीजों को कोरोना की जांच जरूर करवाना चाहिए। साथ ही मास्क का प्रयोग नियमित रूप से करना जरूरी है। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने कहा कि कोविड से लडऩे की तैयारियां पूरी हैं। नया वैरिएंट घातक नहीं है।

 

कोरोना के चार नए मरीज, एक्टिव केस 12 हुए

वहीं मेरठ में कोरोना के मरीजों का आंकड़ा बढऩा शुरू हो गया है। शनिवार को चार नए मरीज मिलने से प्रशासन की चुनौती बढ़ गई है। लंबे समय बाद चार मरीज मिले हैं। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 12 तक पहुंच गई है। डा. तालियान ने बताया कि 3600 सैंपलों की जांच में चार में कोरोना की पुष्टि हुई। स्वास्थ्य विभाग ने सर्विलांस एवं रैपिड रिस्पांस सेल को तैयार कर लिया है। आक्सीजन जनरेशन प्लांटों एवं आक्सीजन कंसट्रेटरों की जांच पड़ताल की जा रही है। उधर, मेडिकल कालेज की माईक्रोबायोलोजी लैब में संक्रमितों की संख्या बढ़कर दहाई छूने लगी है।

 

source news: jagran

Leave A Reply

Your email address will not be published.