Chanakya Niti: जानें क्‍या हैं इसके पीछे के कारण? धरती पर बोझ की तरह होते हैं ऐसे लोग!

image Source : google

Chanakya Niti For best Life: महान विद्वान आचार्य चाणक्‍य ने अपने नीति शास्‍त्र में बताया है कि आदर्श जीवन कैसा होता है. साथ ही उन्‍होंने आदर्श जीवन जीने के तरीके भी बताए हैं. चाणक्‍य नीति कहती है कि यदि व्‍यक्ति अपने जीवन में कुछ खास काम न करे तो उसका जीवन व्‍यर्थ है. उन्‍होंने चाणक्‍य नीति में बताया है कि किन स्थितियों में व्‍यक्ति धरती पर बोझ की तरह हो जाता है. यहां तक कि ऐसे लोगों का साथ दूसरों तक का जीवन बर्बाद कर देता है.

 

बेकार है ऐसा जीवन 

आचार्य चाणक्‍य एक श्लोक के जरिए कहते हैं- 
‘येषां न विद्या न तपो न दानं
ज्ञानं न शीलं न गुणो न धर्मः.
ते मर्त्यलोके भुवि भारभूता
मनुष्यरूपेण मृगाश्चरन्ति ॥’ 

इस श्‍लोक में उन्‍होंने ऐसे कामों के बारे में बताया है, जिन्‍हें न करने वाले लोगों का जीवन बेकार होता है. ऐसे लोग धरती पर बोझ की तरह होते हैं. 

पूजा-पाठ और दान न करने वाले लोग: ऐसे लोग जो भगवान की भक्ति नहीं करते हैं और कभी दान-पुण्‍य नहीं करते हैं, ऐसे लोगों का जीवन बेकार है. व्‍यक्ति को अपने  इस जन्‍म और अगले जन्‍म को बेहतर बनाने के लिए भगवान की आराधना भी करनी चाहिए और जरूरतमंदों को दान भी करना चाहिए.

 

अच्‍छा आचरण न करने वाले लोग: ऐसे लोग जिनका आचरण खराब हो. जिनके काम उनकी और उनके परिवार की छवि खराब करें, ऐसे लोग भी धरती पर बोझ के समान हैं. व्‍यक्ति को हमेशा ऐसा आचरण करना चाहिए जो उसे और उसके परिवार को सम्‍मान दिलाएं. 

 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. faridabadnews24 इसकी पुष्टि नहीं करता है.) 

 

source news: zeenews

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.