भक्त इस तरह से करते हैं पूजा तो कहते हैं मिलती है हनुमानजी की विशेष कृपा, साल का पहला बड़ा मंगल आज

image Source : google

Bada Mangal 2022: मंगलवार, हनुमान जी (Hanumanji) की पूजा के लिए सबसे अच्छा माना गया है. माना जाता है कि इस दिन सच्चे हृदय और शुद्ध मन से हनुमान जी की पूजा-अर्चना (Worship of Hanumanji) करने से भक्तों के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं. हिंदू धर्म शास्त्रों में ज्येष्ठ मास (Jyeshtha Month) में हनुमानजी की पूजा का खास महत्व बताया गया है. दरअसल ज्येष्ठ मास में पड़ने वाले मंगलवार (Mangalwar) को बड़ा मंगल (Bada Mangal) कहते हैं. इस दिन संकट मोचक हनुमान जी की पूजा का विशेष विधान है. आइए जानते हैं कि ज्येष्ठ मास में बड़ा मंगल कब-कब पड़ रहा है और इस दिन हनुमानजी की पूजा का विधान क्या है.


 

बड़ा मंगल का महत्व I Bada Mangal Significance

 

 

 

ज्येष्ठ में कब-कब है बड़ा मंगल I Jyeshth Month Bada Mangal Dates

 

साल 2022 में मंगलवार से ही ज्येष्ठ मास की शुरुआत हो रही है. पंचांग के मुताबिक साल का पहला बड़ा मंगल 17 मई को यानी आज पड़ रहा है. इसके बाद क्रमशः 24 मई, 31 मई, 07 जून और 14 जून को पूरे माह में पांच मंगलवार पड़ेंगे.

 

 

 

हनुमानजी की पूजा विधि I Hanumanji Puja Vidhi

 

  • सुबह स्नान आदि के निवृत होकर हनुमानजी को लाल रंग का चोला अर्पित किया जाता है.
  • चोला चढ़ाते वक्त हनुमान जी के सामने चमेली के तेल का दीपक जलाया जाता है.
  • हनुमानजी को गुलाब की माला अर्पित की जाती है.
  • हनुमान जी की मूर्ति के दोनों कंधों पर थोड़ा-थोड़ा केवड़े का इत्र लगाया जाता है.
  • पान के पत्ते पर थोड़ा सा गुड़ और चना रखकर बजरंगबली को भोग लगया जाता है.
  • हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का पाठ किया जाता है.


 

मंत्र I Hanuman Mantra

 

ऊं हं हनुमते नम:

 

ओम् ह्रां ह्रीं ह्रं ह्रैं ह्रौं ह्रः हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट्

 

ॐ दक्षिणमुखाय पच्चमुख हनुमते करालबदनाय

 

राम रामेति रामेति रमे रामे मनोरमे
सहस्त्र नाम तत्तुन्यं राम नाम वरानने

 

मंगल भवन अमंगलहारी द्रवहु सो दशरथ अजिर विहारी

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. faridabadnews24 इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

 

source news: ndtv

Leave A Reply

Your email address will not be published.