जानिए कैसे हुई थी शुरुआत, 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय योग दिवस?

image Source : google

International Yoga Day 2022 : हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है. इस साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आठवां साल है. भारत के साथ-साथ योग की ताकत को अब पूरी दुनिया मान रही है. शरीर को हेल्दी रखने के लिए योग करने की सलाह दी जाती है. योग से शरीर के साथ-साथ आपका मानसिक स्वास्थ्य भी सही रहेता है.

 

 

International Yoga Day 2022 Theme: इस बार की क्या है थीम?
पूरी दुनिया में आज (मंगलवार), 21 जून को इंटरनेशनल योग दिवस यानी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है. इस बार योग दिवस की थीम ‘मानवता के लिए योग (Yoga For Humanity) रखी गई है. इस साल योग दिवस की थीम दुनिया पर कोरोना के असर को देखते हुए रखी गई. कोरोना महामारी ने न सिर्फ शरीर पर बल्कि मानसिक हेल्थ पर भी असर डाला है. कोरोना के चलते लोगों को चिंता, अवसाद जैसी मनोवैज्ञानिक और मानसिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ा. जो कि इस समय मानवता के लिए सबसे बड़ी चुनौती है. इसलिए मानवता के लिए योग का सहारा लिया जाना चाहिए.

 

 

History of International Yoga Day: कैसे हुई थी योग दिवस की शुरुआत?
भारत में योग का इतिहास पुराना है. लेकिन अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का इतिहास ज्यादा पुराना नहीं है. साल 2014 में पीएम नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में इसकी पहल की थी. 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इस प्रस्ताव को पूर्ण बहुमत से पारित किया था. 193 सदस्य देशों में से 177 सदस्यों ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने के प्रस्ताव को ध्वनिमत से मंजूरी दी थी.

 

 

कब मनाया गया था पहला अंतरराष्ट्रीय योग दिवस?
संयुक्त राष्ट्र महासभा की मंजूरी के बाद 21 जून 2015 को पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन भव्य तरीके से किया गया था. पीएम मोदी के नेतृत्व में करीब 35 हजार से अधिक लोगों और 84 देशों के प्रतिनिधियों ने दिल्ली के राजपथ पर योग के 21 आसन किए थे.

 

 

International Yoga Day: 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है?
21 जून को उत्तरी गोलार्द्ध का सबसे लंबा दिन होता है, जिसे लोग ग्रीष्म संक्रांति भी कहते हैं. भारतीय परंपरा के मुताबिक, ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन होता है. माना जाता है कि सूर्य दक्षिणायन का समय आध्यात्मिक सिद्धियां प्राप्त करने के लिए फायदेमंद है. इसी को देखते हुए योगा दिवस हर साल 21 जून को मनाया जाता है.

 

 

Significance of International Yoga Day 2022: क्या है योग दिवस का महत्व?
स्वस्थ शरीर और मन के लिए योग बहुत जरूरी है. योग करने से मानव जीवन पर सकारात्मक असर पड़ता है. अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का मकसद लोगों के बीच योग के अभ्यास को बढ़ावा देना है. इस दिन पूरी दुनिया में योग को बढ़ावा देने और लोगों को प्रेरित करने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं

 

source news : aajtak

Leave A Reply

Your email address will not be published.