बल्लभगढ़ एसडीएम ऑफ़िस कार्यालय बल्लभगढ़ में महिलाओं द्वारा ज़ोरदार धरना प्रदर्शन किया गया

फरीदाबाद : बल्लभगढ़ विधानसभा के अंतर्गत आने वाली आज़ाद नगर कॉलोनी में पिछले 11 अगस्त को एक 11 वर्षीय दलित परिवार की बच्ची का बलात्कार व हत्या हुई और अभी तक पुलिस आरोपियों को गिरफ़्तार नहीं कर पाई है । इसी कुकृत्य के विरोध में बल्लभगढ़ की पूर्व विधायक शारदा राठौर के नेतृत्व में बड़ी संख्या में महिलाएँ पंचायत भवन पहुँची, जहाँ उन्होंने हरियाणा सरकार व पुलिस प्रशासन के विरोध में नारे लगाए । महिलाएँ आरोपियों की तुरंत की गिरफ़्तारी की व आरोपियों को फाँसी की सजा देने की माँग कर रही थी । इस अवसर पर शारदा राठौर ने कहा कि सवा महीना बीत जाने पर भी पुलिस इस मामले में कोई गिरफ़्तारी नहीं कर पाई है ।

 

अन्य प्रदेशों में ऐसे मामलों में तुरंत कार्रवाई होती है, लेकिन हरियाणा सरकार के ढुल मुल रवैये की वजह से यह मामला नहीं सुलझ पाया है । सरकार का बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा पूर्णतः विफल हो चुका है, क्योंकि बेटी बचाना ही आज की सबसे बड़ी चुनौती है । महिलाओं में भय का वातावरण बना हुआ है । बच्चियाँ कहीं भी सुरक्षित नहीं है । सरकार का हर घर शौचालय का नारा भी पूर्णतः विफल है क्योंकि अगर आज़ाद नगर में शौचालय होता तो यह बच्ची रात के समय रेलवे लाइन पार करके शौच करने नहीं जाती और आज ज़िंदा होती ।

 

मंत्री मूलचंद शर्मा ने जो आर्थिक मदद की घोषणा की थी वह भी अभी तक नहीं पहुँची है । शारदा राठौर ने कहा कि हम बच्ची को इंसाफ़ दिलाने के लिए अपने वक़ील खड़े करेंगे और परिवार की हर संभव सहायता करेंगे । इस अवसर पर महिलाओं ने राज्यपाल के नाम पर ज्ञापन सौंपा जिसमें महामहिम राज्यपाल से इस मामले में हस्तक्षेप कर बलात्कार की शिकार मृतक बच्ची को न्याय दिलाने की माँग की है । शारदा राठौर ने कहा कि अगर अब भी आरोपी गिरफ़्तार नहीं हुए तो बड़े स्तर पर हम भाजपा नेताओं व सरकारी अधिकारियों का घेराव करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.